Full information of PhD in Hindi

Hii friends,

आज फिर आपके लिए लेकर आया हूं  कैरियर से संबंधित जानकारी। आज हम जानेंगे ।Full information of PhD in Hindi

PhD क्या है। इसका फुल फॉर्म ?

PhDलिए क्या-क्या योग्यता होनी चाहिए ?

PhD  कैसे करें ?

PhD कितने सालों का होता है तथा इसकी फीस कितनी होती है?

Full information of PhD in Hindi

 PhD एक बहुत ही प्रसिद्ध डिग्री  कोर्स है । इसे करने के बाद आपके नाम के आगे डॉक्टर का टाइटल लग जाता है जो एक बहुत ही गर्व की बात होती है परंतु वहीं दूसरी ओर यह कोर्स करने के लिए आपको बहुत पापड़ बेलने पड़ते हैं। क्योंकि  इसके लिए आपको काफी मेहनत के साथ सब्र भी रखना होगा क्योंकी इस डिग्री कोर्स को आप डायरेक्ट नहीं कर सकते । पहले आपको स्कूल कॉलेज पास करना होता है तभी आप इस PhD डिग्री कोर्स के लिए योग्य  होंगे।। तो आइए जान लेते हैं इस PhD डिग्री कोर्स को हम कैसे कर सकते हैं।

PhD डिग्री कोर्स क्या है और इसका फुल फॉर्म

पीएचडी (PhD) जिसका फुल फॉर्म है डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी (Doctor of Philosophy) जिसे हम शॉर्टकट में PhD कहते हैं 
यह एक उच्च यानि हाईएस्ट डिग्री कोर्स है जो की पुरे तीन साल का होता है और इस कोर्स को पूरा करने के बाद यानि पीएचडी की डिग्री पूरी करने के बाद आपके नाम के आगे डॉ Dr. लगाया जाता है ये एक डाक्टरल डिग्री (Doctoral Degree) है। अगर आप किसी कॉलेज में प्रोफेसर बनना चाहते हो तो ऐसे में आपके पास ये डिग्री होनी चाहिए तभी आप एक प्रोफेसर बन सकते है या फिर आप चाहे तो रिसर्च या फिर एनालिसिस भी कर सकते है । अपने सब्जेक्ट में  इस कोर्स को करने के बाद आपके पास किसी भी एक सब्जेक्ट का भरपूर ज्ञान होगा  यानि आप एक एक्सपर्ट कहलायेंगे लेकिन पीएचडी करने से पहले आपको किसी भी सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री पूरी करनी होगी जिसमे भी आपका इंटरेस्ट हो और उस कोर्स को अच्छे से ज्यादा मार्क्स लाये आप चाहो तो केमिस्ट्री से कर सकते हो हिस्ट्री से कर सकते हो या जिस में भी आपकी रुचि हो। उसी से करें जिसमें आपका इंटरेस्ट हो।

पीएचडी कोर्स अगर आप करना चाहते हो तो आपको बहुत पहले से ही सोच कर रखना पड़ेगा के किस में आपकी रुचि है ।जिस भी सब्जेक्ट में आपको इंटरेस्ट हो या जो भी सब्जेक्ट में आपने 12th पास की है उसी सब्जेक्ट में ग्रेजुएशन पूरी करे साथ ही साथ उसी सब्जेक्ट की मास्टर डिग्री भी  पूरी करे ताकि आपको पीएचडी (Phd) में किसी भी तरह की समस्या का सामना न करना पड़ेक्ष अगर आप शुरू से एक ही सब्जेक्ट में  इंटरेस्ट लेते है तो पीएचडी में आपको काफी मदद मिलेगी।

पीएचडी लिए कौन-कौन सी योग्यताएं होनी चाहिए।(Eligibility Criteria for Ph.d  Degree Course)

1)पहली बात आपकी ग्रेजुएशन पूरी होनी चाहिए।

2)दूसरी बात मास्टर डिग्री पूरी होनी चाहिए।

3)तथा तीसरी बात कम से कम 55% या 60% मार्क्स चाहिए एंट्रेंस एग्जाम के लिए ये परसेंटेज कुछ कॉलेज में अलग अलग होती है।

पीएचडी कोर्स के क्या-क्या फायदे हैं (Advantage of Phd Course in hindi)

1)पीएचडी (Phd) उच्च डिग्री कोर्स है जो बहुत ही सम्मानजनक है।

2)पीएचडी करने के बाद आप अपने फील्ड में एक्सपर्ट कहलायेंगे

3)पीएचडी करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में एक प्रोफेसर बन सकते है। और अपने ज्ञान का प्रचार प्रसार कर सकते हैं।

4)पीएचडी करने के बाद आप रिसर्च या एनालिसिस कर सकते है। जिससे आपकी और ख्याति बढ़ेगी। आज के समय में जिस ने ज्यादा रिसर्च की है वही पहचाना जाता है।

5पीएचडी करने वाले को हम क्रिएटर ऑफ़ इनफार्मेशन भी कहते है

6)पीएचडी करने के बाद किसी भी पोजीशन के लिए जॉब में अप्लाई कर सकते है। और आपको उच्च स्तर की जॉब भी मिल जाती है।

पीएचडी (PhD) कैसे करे पूरी जानकारी।

 1. 12th पास करे

किसी भी सब्जेक्ट में डिग्री करना हो तो इसके लिए सबसे पहले आपको 12वी पास करना ही होगा। आपको दसवीं पास करने के बाद जिसमें आपकी रुचि हो बस विषय चयनित करना होगा जिससे आपको पीएचडी करने में बहुत मदद मिलेगी।

 2. ग्रेजुएशन के लिए अप्लाई करे और पढाई पूरी करे।

जैसे ही आप 12वी पास करलेते हो इसके बाद आपका जो भी सब्जेक्ट या फील्ड फेवरेट है यानि जिस भी कोर्स के लिए आप पढाई करना चाहते है उसके लिए एंट्रेंस एग्जाम दे और एग्जाम क्लियर करके अपने ग्रेजुएशन डिग्री की पढाई पूरी करे जिस भी फील्ड में एक्सपर्ट बनना चाहते है उस सब्जेक्ट को अच्छे से पढ़े और ज्यादा से ज्यादा मार्क्स लाये आगे जाके आपको फायदा होगा।

 3. मास्टर डिग्री की पढाई पूरी करे

ग्रेजुएशन करने के बाद आपको मास्टर डिग्री  के लिए अप्लाई करना होगा ध्यान रहे जिस फिल्ड या सब्जेक्ट में आपने बैचलर डिग्री (Bachelor Degree) पूरी की है उसी सब्जेक्ट में मास्टर डिग्री (Master Degree) पूरी कर तभी आपको Phd में फायदा होगा और कोसिस करे की मास्टर और बैचलर डिग्री में आपके कम से कम 60% मार्क्स हो ताकि आपको आगे एंट्रेंस एग्जाम के लिए कोई दिक्कत न हो

 4. UGC NET टेस्ट के लिए अप्लाई करे और क्लियर करे

जैसे ही आपकी पोस्ट ग्रेजुएशन पूरी हो जाती है तो आपके पीएचडी (Phd)   करने के लिए यूजीसी नेट (UGC NET) के एग्जाम देना होगा। और इससे क्लियर करना होगा  पहले ये एग्जाम नहीं था लेकिन अब पीएचडी करने के लिए इस एग्जाम को क्लियर करना अनिवार्य करदिया गया है।

 5. PhD के लिए एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करे

नेट एग्जाम कंप्लीट करने के बाद आप पीएचडी (Phd) एंट्रेंस एग्जाम देने के लिए योग्य तो अब आपको अपने हिसाब जिस  भी कॉलेज से आपको पीएचडी की पढाई करनी है। उस कॉलेज के एंट्रेंस एग्जाम दे हर यूनिवर्सिटी (University) अपने अपने  एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करती है। पीएचडी के लिए तो आपको इस एग्जाम को क्लियर करना होगा तभी आप आपको एडमिशन मिलेगा.।

तो इस  तरह पीएचडी की डिग्री हासिल कर   सकते हैऔर अपने फेवरेट सब्जेक्ट में और  ज्यादा ज्ञान पा सकते है अब बहोत से लोगो के मन में सवाल है की पीएचडी (Ph.d) के लिए कितना पैसे (Fees) लगती है और कोनसे कॉलेज से पीएचडी करना सही होगा  पीएचडी  कॉलेज की फीस और इसमें कितना खर्चा आएगा ये कोई फिक्स नहीं  है।   हर कॉलेज की फीस अलग होती है प्राइवेट चेक करने में ज्यादा खर्चा आता है। गवर्नमेंट से करोगे तो फायदा मिलेगा।

Thanks for reading।


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *